जानें ! मोदीजी ने अपने सांसदों और विधायकों ऐसी कौनसी डिटेल माँगी ली

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नोटबंदी के मद्देनजर भाजपा के सांसदों और विधायकों को आठ नवंबर से 31 दिसंबर तक होने वाले सभी बैंकिंग लेन-देन की जानकारी पार्टी अध्यक्ष अमित शाह को देने के लिए कहा है। मोदी ने भाजपा संसदीय दल की आज यहां संसद भवन परिसर में हुई बैठक में ये निर्देश दिए। उल्लेखनीय है कि विपक्ष आरोप लगा रहा है कि नोटबंदी किये जाने की जानकारी भाजपा नेताओं को पहले ही दे दी गयी थी ताकि वे अपना धन इधर-उधर कर सके। संसदीय कार्य मंत्री अनंत कुमार ने बैठक के बारे में संवाददाताओं को जानकारी देेते हुये बताया कि मोदी ने विपक्ष के इस आरोप को पूरी तरह खारिज किया कि कल लोकसभा में पेश आयकर संशोधन विधेयक कालेधन को सफेद बनाने की स्कीम है। उनका कहना था कि यह गरीबों के कल्याण की योजना है।

उन्होंने कहा कि मोदी ने सभी से देश को डिजिटल और कैशलेस अर्थव्यवस्था बनाने में सहयोग देने की अपील भी की। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कल आयकर कानून 1961 में संशोधन के लिए कराधान विधि (दूसरा संशोधन) विधेयक, 2016 को लोकसभा में पेश किया था जिसमें नोटबंदी के मद्देनजर बैंकों में जमा हो रही अघोषित आय पर 30 प्रतिशत कर, 10 फीसदी जुर्माना और कर पर 33 फीसदी प्रधानमंत्री गरीब कल्याण उपकर लगाने का प्रस्ताव किया गया है जो कुल मिलाकर करीब 50 फीसदी हो जाता है। इसके साथ ही अघोषित आय की 25 फीसदी राशि बगैर ब्याज के चार वर्षाेें के लिए प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना 2016 में जमा करानी होगी।

विज्ञापन