वायरल खबर: 31 जुलाई से बंद हो जाएंगे PNB बैंक के ATM CARD

31 जुलाई के बाद PNB अपने सभी माइस्ट्रो एटीएम कार्ड को ब्लॉक कर देगा। वायरल मैसेज में कहा जा रहा है कि जिनके पास PNB का माइस्ट्रो एटीएम कार्ड है वो 31 जुलाई तक ब्रांच जाकर चेंज करा लें। बैंक बिना किसी चार्ज के माइस्ट्रो कार्ड लेकर चिप वाला कार्ड दे देगा। ऐसा ना करने पर 1 अगस्त से इन्हें ब्लॉक कर दिया जाएगा। बैंक की तरफ से ऐसा मैसेज कार्ड की सिक्योरिटी को देखते हुए कस्टमर्स को भेजा गया है।


सच्चाई:मैसेज में कार्ड बदलवाने की बात तो सच है, लेकिन 31 जुलाई के बाद माइस्ट्रो कार्ड बदले जा सकेंगे।
सबूत :हमने पीएनबी की साइट सर्च की। लेकिन वहां इससे जुड़ा कोई नोटिफिकेशन नहीं मिला। इस बारे में जब PNB के एमपी-सीजी हेड एल. के. मल्होत्रा से बात की तो उन्होंने बताया कि आरबीआई एडवाइजरी में 31 दिसंबर 2018 तक ऐसे कार्ड को रिप्लेस करके नए ईमवी चिप बेस्ड कार्ड कस्टमर्स को देने की बात कही गई थी। इसी के तहत PNB ने कस्टमर्स को ब्रांच जाकर 31 जुलाई तक माइस्ट्रो कार्ड को चिप वाले कार्ड से एक्सचेंज करने की सलाह दी है। इसके लिए कोई एक्स्ट्रा चार्ज नहीं लगेगा।
31 जुलाई के बाद ऐसे कार्ड ब्लॉक होने की बात सही नहीं है। इसके बाद भी लोग माइस्ट्रो कार्ड चेंज कर सकेंगे। लेकिन बैंक चाहता है कि सेफ्टी के लिए लोग जल्द से जल्द कार्ड चेंज करा लें।

Read More

किसी भी फॉर्मेट की फाइल जल्द ही कर सकेंगे व्हॉट्सएप पर शेयर


लोकप्रिय मैसेजिंग व्हॉट्सएप यूजर्स के अनुभव को और बेहतर करने के लिए नया फीचर लॉन्च करने की तैयारी में है। इस फीचर के जरिए यूजर्स व्हॉट्सएप पर अपने दोस्तों के साथ हर तरह के फॉर्मेंट की फाइल शेयर कर सकेंगे। इसे ग्रुप में भी सेंड किया जा सकेगा। माना जा रहा है कि यह व्हॉट्सएप में बड़ा बदलाव होगा।

इस फीचर के आ जाने के बाद यूजर्स पीडीएफ, वर्ड, स्प्रेडशीट्स और स्लाइड्स जैसी फाइल को ग्रुप्स और अपने कॉन्टैक्ट्स के साथ शेयर कर पाएंगे। फिलहाल व्हॉट्सएप इस फीचर का टेस्ट कर रहा है। इसे कब तक जारी किया जाएगा, इसके बारे में कंपनी ने कोई आधिकारिक घोषणा नहीं की है।

अभी व्हॉट्सएप के iOS वर्जन पर 128 एमबी, एंड्रायड वर्जन पर 100 एमबी और व्हॉट्सएप वेब पर 64 एमबी तक की फाइल को शेयर कर सकते हैं। गौरतलब है कि यूजर्स थर्ड पार्टी ऐप के जरिए भी व्हॉट्सएप पर पीडीएफ और डॉक फाइलें सेंड कर सकते हैं। अब SendAnyFile ऐप के जरिए किसी भी फॉर्मेट की फाइल को भेजा जा सकेगा। यह एप Android पर उपलब्ध है।

इन तरीकों से कर सकते हैं फाइल सेंड

1. पहला तरीका यह है कि आप फाइनल मैनेजर पर जाएं। यहां से अपनी फाइल को SendAnyFile पर सेंड करें। यह एप फाइल को प्रोसेस करेगा और फिर आप व्हॉट्सएप पर किसी को भी भेज सकते हैं।

2. दूसरा तरीका यह है कि ‘SendAnyFile’ पर जाकर उस फाइल को चुना जाए, जिसे प्रोसेस करना है। फाइल .doc के रूप में लिस्टेड हो जाएगी, जिसे व्हाट्सएप पर भेजा जा सकेगा।



ऐसे देख सकेंगे फाइल

यदि आपको किसी ने SendAnyFile ऐप का उपयोग कर फाइल भेजी है, तो आप इस ऐप के जरिए फाइल ओपन कर सकते हैं। फाइल एसडी कार्ड फोल्डर में सेव हो जाएगी।

SendAnyFile ऐप बनाने वालों का दावा है कि इसका उपयोग कर यूजर सभी इमेज फॉर्मेट के अलावा .zip, .rar, .avi फाइलें भी भेज सकेंगे। इस ऐप का इस्तेमाल फेसबुक मैसेंजर, हाइक और अन्य चैटिंग ऐप में भी किया जा सकता है।
Read More

दुल्हन ने मांगी मुंह दिखाई, पति बोला- मैडम आपकी डिमांड ने तो दिल जीत लिया

यहां एक दुल्हन ने ससुराल में एंट्री से पहले पति और ससुरालवालों से मुंह दिखाई में अनोखी मांग कर डाली। दुल्हन ने कहा- मैं घर के अंदर कदम रखने से पहले एक पेड़ लगाना चाहती हूं। इस बात पर पूरा परिवार एक बार तो हैरान रह गया। इसके बाद दूल्हा-दुल्हन ने घर के बाहर आम का एक पेड़ लगाया।

- दूल्हे अभिषेक ने कहा- ''विदाई के बाद रास्ते में निधि (दुल्हन) ने मुझसे पूछा था, मुंह दिखाई में क्या गिफ्ट देने वाले हैं। मैंने उस समय कुछ नहीं बताया। सिर्फ डिसाइड किया था कि कुछ अच्छी सी ज्वेलरी गिफ्ट करूंगा। लेकिन घर पहुंचकर मैडम ने तो हैरान ही कर दिया। पेड़ लगाने की डिमांड कोई ऐसे मौके पर करेगा, यह कभी नहीं सोचा था। निधि ने इतना प्यारा मैसेज देकर मेरा ही नहीं, पूरे परिवार का दिल जीत लिया है।''

- मामला काशी के चोलापुर ब्लॉक का है। अजगरा गांव के अभि‍षेक पांडेय की शादी 5 जून को मिर्जापुर की रहने वाली नि‍धि से हुई।
- 6 जून को विदाई के बाद निधि अपने पति के साथ ससुराल पहुंची। घर में एंट्री से पहले ही उसने मुंह दि‍खाई के बदले एक पेड़ लगाने की मांग की।


- बहू की मांग सुनकर एक बार सभी लोग सोच में पड़ गए, लेकिन खुश भी हुए और मांग पूरी करते हुए घर के बाहर आम का एक पेड़ लगवाया।
- निधि ने बताया, ''मेरी शादी पर्यावरण दिवस वाले दि‍न हुई, लेकिन हम पेड़ नहीं लगा पाए। मैंने समाज को मैसेज देने के लिए ऐसा किया।''
- निधि के ससुर श्याम बिहारी ने बताया, ''बहू की बात सुनकर पहले हम लोग थोड़ा झिझक गए थे। जब उसने समझाया कि एक पेड़ से लाखों पेड़ लगेंगे और लोगों की सोच बदलेगी तो हम तैयार हो गए।''
Read More

लड़की ने बताया रात जो हुआ उसके साथ, 'मेरा हाथ पकड़ कपड़े फाड़े और..."

पार्टी के बाद अपनी दोस्त को घर छोड़ने जा रहे भाई बहनों पर बदमाश टूट पड़े। सड़क से गुजर रही लड़की का हाथ पकड़कर बदमाशों ने उसके कपड़े फाड़ दिए और विरोध करने पर भाइयों पर चाकू से हमला कर दिया।
Read More

इस तरह अाप अासानी से ढूंढ पाएगें खोया हुअा मोबाइल

टैकनोलजी के इस युग में अाए दिनों एेसे अविष्कार हो रहें है जिनसे जीवन में अाने वाली कई मुश्किले दूर हो रहीं है। इसी के तहत अमेरिका के मोबाइल इंडस्ट्री ट्रेड ग्रुप सीटीआईए ने 'स्टोलन फोन चेकर' की शुरुआत की है। इसमें जीएसएमए डिवाइस चेक नाम का टेक्निकल टूल लगा हुआ है, जो यूजर्स को अमेरिका में स्मार्टफोन के गुम होने या चोरी होने की स्थिति में मदद करेगा। यूजर्स इस डिवाइस को एक दिन में पांच बार इस्तेमाल कर सकते हैं।

'स्टोलन फोन चेकर', इंटरनैशनल मोबाइल इक्विपमेंट आइडेंटिफायर (आईएमइआई) डिवाइस को देखने का काम करता है। आईएमइआई एक अनोखा कोड होता है जो प्रत्येक मोबाइल फोन में पाया जाता है। अापको बता दें कि आईफोन डिवाइस में यह कोड पीछे की तरफ प्रिंटेड होता है लेकिन दूसरी डिवाइसेज में यह मेन्यू सेटिंग में पाया जाता है। इस सर्विस के तहत एक स्मार्टफोन के 10 साल से ज्यादा के रिकॉर्ड को रखा जाता है, जिसमें फोन की हिस्ट्री, डिवाइस मॉडल इन्फर्मेशन और कैपेबलिटी की जानकारी शामिल है।

Read More

हवा में लटका नल हमेशा बेहता रहता है पानी पढ़ें

जादू तो हर किसी ने देखा होगा। फिर वह असल में हो या आंखों का छलावा। जादू में अक्सर देखा जाता है कि कोई चीज हवा में उड़ रही होती है लेकिन ये सब तो जादू के कारण होता है। आज हम जिस विषय के बारे में बात कर रहे है, पानी का नल। यह नल हवा में लटका हुआ दिखाई देता हैं, इतना ही नहीं ब्लकि इनमें से लगातार पानी भी बहता है। 

यह नल स्पेन, बेल्जियम, अमेरिका और कनाडा समेत कई जगहों पर लगे हुए हैं जो हवा में लटके हैं फिर भी उनमे से लगातार पानी गिरता रहता है। इन नल को देखने वाले हैरान ही रह जाते है कि पानी कहा से आ रहा है और ये नल हवा में कैसे लटके हुए है। 

दरअसल इन नल से गिरते पानी के ऊपर एक कांच का पाइप लगा है जो नीचे से एक मोटर से जुड़ा है, ये नल इसी पाइप के सहारे खड़ा रहता है। नीचे से पानी की मोटर नल से पानी ऊपर की तरफ फैंकती है। पानी नल से टकराकर वापस नीचे की ओर आता है। यह देखने में ऐसा लगता है कि मानों नल हवा में लटक रहा है और उसमें से पानी गिर रहा है।
विज्ञापन
Read More

प्रधानमंत्री ने मानी 2000 नोट में टेक्नोलॉजी चिप वाली बात देखें विडियो


Watch Full here of Narenra Modi's Video


Read More

परिणीति के लिए छोटी स्कर्ट बनीं मुसीबत, इवेंट के बीच यूं कपड़े ठीक करती रहीं

Watch Full Here Here

Read More

TV पर 'सूर्यवंशम' फिल्म अाखिर बार-बार क्यों आती है जानें वजए !

चैनल ट्यून करते समय एक ऐसी फिल्म है, जो हमें अक्सर दिखाई देती है। इस फिल्म का नाम है 'सूर्यवंशम'। इस फिल्म ने टीवी पर कई बार टेलीकास्ट होने का रिकॉर्ड बना लिया है। फिल्म के कई किरदार मसलन हीरा ठाकुर, राधा, गौरी और मेजर रंजीत लोगों की जुबान पर रहते हैं। इस फिल्म का कोई सीन हो या फिर डायलॉग लोगों को रट गए हैं। सोशल मीडिया में तो फिल्म को लेकर कई जोक्स भी बन चुके हैं। हालांकि अब फिल्म के टीवी पर बार-बार आने की वजह सामने आई है।

दरअसल, सेट मैक्स (अब सोनी मैक्स) पर बार-बार दिखाई जाने वाली इस फिल्म को लेकर असल वजह अब सामने आई है। एक वेबसाइट क्योरा के एक यूज़र के मुताबिक सोनी मैक्स की मार्केटिंग हेड वैशाली शर्मा हैं। वैशाली के मुताबिक, सोनी मैक्स ने फिल्म सूर्यवंशम के राइट्स को 100 साल के लिए खरीद लिया है। ऐसे में, जब राइट्स खरीदने में इतना पैसा लगाया है तो फिल्म तो दिखाई ही जाएगी।

सेम ईयर में आए चैनल और फिल्म
वैसे, बार-बार फिल्म दिखाने की एक वजह ये भी हो सकती है कि जब यह फिल्म 1999 में रिलीज़ हुई थी तो उसी साल मैक्स चैनल को लॉन्च किया गया था। मतलब फिल्म और चैनल दोनों सेम ईयर में ही आए थे। बता दें कि ये फिल्म 21 मई 1999 में रिलीज हुई थी। फिल्म में अमिताभ बच्चन ने डबल रोल किया था। चैनल सैट मैक्स अब सोनी मैक्स में बदल गया, लेकिन फिल्म का टीवी में आना कम नहीं हुआ।

अब इस दुनिया में नहीं है फिल्म की लीड एक्ट्रेस
फिल्म की लीड एक्ट्रेस सौंदर्या रघु अब इस दुनिया में नहीं हैं। प्लेन हादसे के दौरान उनकी मौत हो गई थी। साउथ में एक्टिव रहीं सौंदर्या की 'सूर्यवंशम' पहली और आखिरी बॉलीवुड फिल्म थी।
विज्ञापन
Read More

नोटबंदी पर पीएम के नाम 7 साल की बच्ची का खत, क्या लिखा ?

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नोटबंदी फैसले के खिलाफ जहां विपक्ष दल एकजुट होकर विरोध प्रदर्शन कर रहा है वहीं एक 7 साल की बच्ची मोदी के सपोर्ट में खड़ी हुई है। 7 साल की श्रेया ने नोटबंदी पर मोदी को खत लिखकर कहा कि मैं आपके फैसले के साथ हूं क्योंकि यह काले धन को रोकने के लिए उठाया गया एक साहसिक कदम है।
श्रेया ने लिखा कि मैं मोदी सर की बहुत बड़ी फैन हूं। मोदी हमेशा गरीबों के हक के लिए खड़े होते हैं। खत के साथ श्रेया ने एक गिफ्ट बनाकर भी मोदी को भेजा है। बता दें कि मोदी ने 8 नवंबर को राष्ट्र के नाम संदेश में 500 और 1000 के पुराने नोट बंद करने की घोषणा की थी। इसके बाद से ही कांग्रेस और अन्य पार्टियां मोदी को अपना फैसला वापिस लेने का दवाब बना रही है।
Advertisement
Read More

जियो गूगल प्ले स्टोर पर अपनी लोकप्रियता खो रहा है कैसे ?

मुकेश अंबानी के नेतृत्व वाली नई टैलीकॉम कंपनी रिलायंस जियो के मोबाईल एप्लीकेशन भारत में गूगल प्ले और एप्पल के स्टोरों पर अपनी लोकप्रियता को खो रहे है। लोगों द्वारा बड़ी संख्या में इसे पसंद न किए जाने से यह मोबाइल एप्लीकेशन्स का टॉप रैंकिंग में पहले रैंकों से निचली रैंकिंग पर हो गए हैं। भारत में माई जियो 5 सितम्बर को इसके कमर्शियल लांच से कुछ ही दिन बाद यह गूगल प्ले और एप्पल के एप्प स्टोरों पर सबसे अधिक डाऊनलोड किया जाने वाला एप बन गया था। इतना ही नहीं व्हाट्सएप्प और फेसबुक को भी पीछे छोड़ दिया था। 

जियो 4G डाऊनलोड स्पीड स्लो

जैसे ही रिलायंस जियो ने ये सुविधाएं शुरू की उसकी डाऊनलोड करने की 4G की स्पीड से बढ़ते हुए ट्रैफिक की समस्या के कारण स्लो हो गई। इस वर्ष अक्तूबर में ट्राई की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक एयरटैल, आइडिया सैल्यूलर और वोडाफोन के मुकाबले रिलायंस की 4G स्पीड काफी स्लो हो गई थी। 

उस समय अन्य कम्पनियों के मुकाबले में उतरे इस नई टैलीकॉम कंपनी के चेयरमैन मुकेश अम्बानी ने कहा ,‘‘डाटा अत्यधिक इस्तेमाल किए जाने से नैटवर्क बहुत ज्यादा व्यस्त हो गया था जिसने सारी व्यवस्था को बुरी तरह प्रभावित किया।’’ उस समय जियो सर्विसिज लेने वाले लोग 20 पर्सैंट डाटा का इस्तेमाल कर रहे थे। यही वजह है कि जियो ने 1 GB पर रोजाना इस्तेमाल होने वाले डाटा को नववर्ष के ऑफर में सीमित कर दिया। यह सुविधा 1 जनवरी से समाप्त हो जाएगी।

डाटा 1 GB और स्पीड128 Kbps की

गत वीरवार को रिलायंस जियो ने इस 4-जी सर्विस में मुफ्त वॉयस और डाटा ऑफर को ग्राहकों के लिए 31 मार्च, 2017 तक बढ़ा दिया है। लेकिन, इसके साथ ही कंपनी ने पहले के 4GB डाटा की जगह डाटा 1GB कर दिया है, इसके साथ ही स्पीड भी घटा कर 128 Kbps कर दी है। वहीं रिलायंस जियो के फ्री ऑफरों को 31 मार्च, 2017 तक बढ़ाने से भारत के टैलाकॉम सैक्टर में प्राईज वार और तेज होने वाली है।

रिलायंस कर्मचारियों को दी सुविधाएं रोलआऊट

रिलायंस जियो ने टैस्ट लांच के समय अपने सभी कर्मचारियों को दी हुई इन सुविधाएं को रोलआऊट कर दिया है। इस वर्ष जब मई में रिलायंस एल.वाई.एफ. हैंडसैट उपलब्ध हुए तो इन सैट्स को खरीदने वाले लोगों को फ्री जियो एप्स सुविधाए दीं। फिर इसका विस्तार अन्य 4G स्मार्टफोनों में कर दिया और यूजर्स को 90 दिन की फ्री इस्तेमाल की सुविधा दी गई। हाल में साइबर मीडिया रिसर्च ने कहा था कि अपने इन एप्स के साथ जियो भारत में सबसे बड़ी कंपनी बन सकती है। इसमें भारत के बड़े-बड़े एप डिवैल्पर्स में जगह बनाने और यूजर्स की बड़ी संख्या जोडऩे की भी क्षमता रखता है।

एप्स स्टोरों पर रैकिंग नीचे की ओर

- कभी गूगल प्ले और एप्पल एप्प पर जियो सिनेमा ने तीसरे स्थान पर कब्जा जमाया हुआ था। इस समय यह पहले 10 रैंक से बाहर है।

- जियो टी.वी. जो कभी गूगल प्ले पर चौथे स्थान पर था, लुढ़क कर 8वें स्थान पर आ गया है और एप्पल के एप स्टोर पर 10वें रैंक पर ठहर गया है।

-  जियो नैट, जियो ज्वाइन, जियो बीट्स और जियो मैग्स इन सबकी हालत भी अच्छी नहीं रही है। ये गूगल प्ले और एप्पल के एप स्टोर पर सबसे अधिक पसंद किए जाने वाले 10 एप्स में से बाहर हो गए हैं। 

इस साल के सितम्बर माह में जैसे ही रिलायंस इंडस्ट्री लि. के चेयरमैन मुकेश अम्बानी ने रिलायंस के कम से कम 6 एप्स को 1 वर्ष के लिए मुफ्त में इस्तेमाल करने का ऑफर दिया, उसके 1 दिन बाद ही ये लोकप्रियता के चार्ट में सबसे ऊपर विराजमान हो गए थे। जियो ने अपने ग्राहकों के लिए वार्षिक 15000 रुपए मूल्य के सबस्क्रिप्शन को वर्ष 2017 तक मुफ्त कर दिया। साथ ही, उन्हें जीवनभर के लिए वॉयस कॉल्स की मुफ्त सुविधा भी दे दी।
Advertisement
Read More

नोटबंदी के बाद टूटेगा मोदी का ये बड़ा सपना ? विपक्ष भी उठा रहा सवाल

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की नोटबंदी की घोषणा के बाद अब तक आम जन को कोई राहत नहीं मिली है। नोटबंदी को महीना होने को है लेकिन बैंकों और एटीएम के बाहर कतारें कम नहीं हुई हैं और न ही बैंकों में कैश है। ऐसे में मोदी का एक बड़ा सपना टूट सकता है। मोदी आने वाले दिनों में भारतीय समाज और बाजार के लिए एक सपना देख रहे हैं। यकीनन ये सपना सुदूर भविष्‍य की दुनिया है लेकिन इसके साकार होने का सफर आसान नहीं है। मोदी का सपना भारत को कैशलैस बनाने का है ताकि काले धन पर लगाम कसी जा सके। नोटबंदी के बाद लोगों को खासी परेशानी हो रही है तो एक दम से कैशलैस के फैसले से कई परेशानियां खड़ी हो सकती हैं। इसलिए विपक्ष भी सरकार की खिल्ली उड़ा रहा है और मोदी के सपने के टूटने की भविष्यवाणी की जा रही है। हालांकि सरकार देश के हालात से वाकिफ है लेकिन मोदी इस ओर अग्रसर हो रहे हैं।

ग्रामीण अर्थव्‍यवस्‍था को किया गया नजरअंदाज
विपक्ष का आरोप है कि नोटबंदी के फैसला ने देश की ग्रामीण अर्थव्‍यवस्‍था की कमर तोड़ दी है। ग्रामीण अर्थव्यवस्था को नजरअंदाज कर ही नोटबंदी का फैसला लिया गया है, जहां निरक्षरता तो चरम पर है ही बल्‍कि भुखमरी, गरीबी, अशिक्षा भी बहुत है। देश की 125 करोड़ की आबादी में से अधिकतर लोग गरीब और अशिक्षित हैं, जिनके लिए कैशलेस लेन-देन की बात बेमानी है। उन्हें कैशलैस की आदत डालने से पहले शिक्षित करना पड़ेगा जो अपने आप में एक बड़ा काम है। देश की एक बड़ी आबादी को शिक्षित करने के बाद समस्या यहीं खत्म नहीं होती, बल्कि देश के कई क्षेत्रों में बुनियादी सुविधाएं भी नहीं हैं, वहां नकदी रहित लेनदेन सोचना बेमानी ही होगा।

अमेरिका पूर्ण कैशलैस नहीं
नोटबंदी का फैसला लेकर मोदी ने वर्तमान अर्थव्‍यवस्‍था से 1000 और 500 रुपए की 80 फीसदी से ज्‍यादा मुद्रा हटा दी है। बाजार में कैश की किल्‍लत है और ऐसे में सरकार ने देश में कैशलैस सोसायटी की बहस को जन्‍म दे दिया है। देखा जाए तो अमेरिका जैसा देश अभी भी पूर्ण रूप से कैशलेस नहीं हो पाया है तो ऐसे में भारत को पूरी तरह से कैशलेस बनाने का दावा कितना कारगर साबित होगा? ये तो आने वाला समय ही बताएगा।

इस संबंधी कई विशेषज्ञों ने अपनी राय दी
बनारस हिंदू विश्वविद्यालय के सहायक कुलसचिव प्रोफेसर शार्दुल चौबे का कहना है कि हम अभी 3जी, 4जी पर ही अटके हुए हैं, ऐसे में देश को डिजिटल बनने में कम से कम 10 से 15 साल लग सकते हैं।
-अर्थशास्त्री नितिन पंत कहते हैं के मुताबिक देश के जिस एक तबके को स्मार्टफोन चलाना तक नहीं आता उनके लिए ई-बैंकिंग की डगर बहुत कठिन है। देश के 70 करोड़ लोगों के पास ही बैंक खाता है इनमें से 24 करोड़ खाते पिछले एक साल में प्रधानमंत्री जनधन योजना के तहत खुले हैं और वे इसे लेकर कितने सजग है यह भी सोचने वाली बात है।

ऐसे में मोदी का कैशलेस सोसायटी का सपना कैसे पूरा होगा इस पर उनको पहले गहन विचार करना पड़ेगा। वैसे भी कई बार अच्‍छे फैसले आलोचना के केंद्र में होते हैं। यकीनन डिजिटल मनी और ऑन लाइन ट्रांजेक्‍शन को बढ़ावा देना अच्‍छी बात है लेकिन इस पर पहले से तैयारी करनी भी जरूरी होगी क्योंकि नोटबंदी पर आचानक लिए के फैसले के बाद मोदी को वपक्ष का विरोध झेलना पड़ रहा है।
Advertisement
Read More

सोशल मीडिया में ऐश्वर्या राय बच्चन की फैली सुसाइड की खबर जानें सच्चाई !

आजकल सेलेब्स की मौत की खबरें सोशल मीडिया में फैलती रहती हैं। हाल ही में ऐश्वर्या राय बच्चन की खुदकुशी की खबरें सोशल मीडिया पर आग की तरह फैली हुई हैं। खबरों में दावा किया जा रहा है कि ऐश्वर्या ने बीते दिनों सुसाइड की कोशिश की। इस कारण भी बड़ा दिलचस्प बताया जा रहा है। 

रिपोर्ट्स के मुताबिक, 'ऐश्वर्या अपनी शादीशुदा जिंदगी से परेशान हैं। इसलिए उन्होंने खुद को खत्म करने की कोशिश की। कहा जा रहा है कि जब से ऐश्वर्या ने 'ऐ दिल है मुश्किल' में बोल्ड सीन दिए हैं, तब से बच्चन परिवार उनसे खुश नहीं है।' 

रिपोर्ट में यह दावा किया जा रहा है कि ऐश्वर्या ने अपनी कलाई काट ली है, तो किसी रिपोर्ट में कहा जा रहा है कि ऐश ने नींद की ज्यादा गोलियां खा ली थीं, उन्होंने डॉक्टर को घर पर ही बुलाया और इलाज कराया।

इतना ही नहीं, एक ब्लॉग पर तो यहां तक लिख दिया गया कि जैसे ही ऐश्वर्या होश में आईं, उन्होंने कहा, 'मुझे मर जाने दो। इस तरह की जिंदगी जीने से अच्छा है कि मर जाऊं।" कुछ रिपोर्ट्स के एक फोटो भी शेयर कर हो रही है। हालांकि, इस खबर में कोई सच्चाई नहीं है।  

विज्ञापन
Read More

Pictures : मस्ती करते खुल गई हॉलीवुड एक्ट्रैस की बिकनी फिर !

स्टार जैस्मीन वालिया इन दिनों दुबई में खूब मस्ती करती दिखाई दे रही हैं। वे कभी समुद्र में तो कभी बीच पर एन्जॉय करती नजर आईं। वह ब्लैक कलर की क्रॉप बिकिनी पहने हुई थी। लेकिन मस्ती करते उनकी बिकनी खुलने वाली थीय़ इस स्थिति में बेहद सहज से काम लिया और बिकिनी को बंद कर दिया। जैसे कुछ हुआ ही नहीं।


बाद में वह पानी में भी जमकर मस्ती करती नजर आई। उन्होंने अपने हॉलिडे एन्जॉय करती फोटोज भी शेयर की हैं। जैस्मीन और उनके ब्वॉयफ्रेंड रॉस वर्सवीक के बीच रिलेशनशिप खत्म हो गया है। यही वजह है कि वे दुबई में अकेले ही हॉलिडे एन्जॉय कर रही हैं।

विज्ञापन
Read More

Health News ! सर्दियों में मॉर्निंग वॉक हो सकता है खतरनाक !

सर्दियों का मौसम शुरु हो गया है। यह मौसम अपने साथ कई बीमारियों को भी लेकर आता है। कई लोग सेहतमंद रहने के लिए मॉर्निंग वॉक पर जाते हैं लेकिन इस सीजन में मॉर्निग वॉक पर जाना खतरनाक हो सकता है। सुबह-सुबह नसों में खून का बहाव कम होता है। एेसे में एक्सरसाइज करते समय हार्ट अटैक आ सकता है।

सर्दी के मौसम में शारीरिक क्रिया कम हो जाती है। इसके अलावा कोलेस्ट्रोल रिच डाइट लेने से धमनियों में खून जम जाता है। सर्दी में पानी कम पीने के कारण नसे सिकुड़ जाती है, जिसके कारण हार्ट अटैक होने के चांस बढ जाते हैं। सर्दियों के मौसम में हार्ट अटैक और ब्रेन अटैक के मामले में तीस प्रतिशत तक बढ़ जाते हैं। अगर आप मॉर्निंग वॉक पर जाना चाहते है तो सुबह सात बजे के बाद जाएं। वॉक पर जाते समय अच्छी तरह से गर्म कपड़े पहने। इसके अलावा हार्ट अटैक के रोगियों को जल्दी व्यायाम नहीं करना चाहिए।
विज्ञापन
Read More

सोने से पहले न करें ये काम,उड़ सकती है नींद !

लाइफस्टाइल : सारा दिन काम करने के बाद रात का ही समय होता है जब आप आराम कर सकते हैं। इस समय भी आप अगर इधर-ऊधर की परेशानी में डूबे रहेंगे तो अगले दिन आपको थकावट झेलनी पड़ सकती है। इसके लिए जरूरी है उन बातों जानना जो आपकी नींद में खलल डाल रही हैं। 

1. दिमाग को रखें खाली
रात को सुकुन की नींद पाना चाहते हैं तो सबसे पहले परेशानियों और सोच को अपने से  दूर कर दें। अगर रात को भी आप सोच में डूबे रहेंगे तो अगले दिन दोबारा काम करने के लिए खुद को तैयार नहीं कर पाएंगे।

2. गैजेट से बनाएं दूरी
रात को सोशल साइटस,मोबाइल या फिर किसी ऐसी चीज से दूरी बनाएं जो नींद से आपका ध्यान हटा रही है। मोबाइल को तो आप बिस्तर पर जाने से पहले ही साइड पर रख दें। 

3. सोने का समय करें निर्धारित
आप कामकाजी हैं और सुबह ऑफिस जाना है तो इसके लिए अपने साने का समय निर्धारित करें। इससे आपको सुबह उठने में परेशानी नहीं होगी। 

4. न पीएं चाय और कॉफी
कोई भी ऐसी चीज जिसमें कैफीन है। इसके सेवन से परहेज करें। चाय और कॉफी में भी कैफीन होता है जो नींद में खलल डालने का काम करता है। 

5. आरामदायक बिस्तर पर सोएं
आराम से सोने के लिए जरूरी है कि बिस्तर भी आरामदायक हो। आप अगर तकिया ज्यादा ऊंचा लेकर सोते हैं तो इससे नींद भी खराब होगी और सेहत पर भी असर पड़ेगा। 
विज्ञापन
Read More

© Copyright Viraltime News In Hindi,Bhaskar Live Hindi l Hindi India News,Gossip In Hindi, Health In Hindi